Monday, December 6, 2010

'सरकारी वाहन '...'फ़िल्मी दुनिया'...'विधायकी चिंता'


   सरकारी वाहन
साहब तो विभाग में घुसते ही
भ्रष्टाचार  की दुहिता
राजकुमारी रिश्वतसंहिता से
मैरेज कर चुके हैं 
और सरकारी वाहन- 
दहेज़ में पा चुके हैं !       
         फ़िल्मी दुनिया
आजकल -
फ़िल्मी दुनिया के पीछे 
सारी दुनिया चल रही है |
गाँव की भोली-भाली-
फुलमतिया भी 
मल्लिका शेरावत 
बन रही है |
     विधायकी चिंता
ये सर की करें  चिंता  या कार  की करें |
या   बीहड़ों   में  बैठे   सरदार   की  करें |
झंझट ये हैं विधायक ,मजबूरियां भी हैं ,
चिन्ता करें तुम्हारी या घर-बार की करें | 


15 comments:

  1. बिल्कुल सही कह रहे हैं……………करारा व्यंग्य्।

    ReplyDelete
  2. पहली बार आपकी रचना पढ़ीं, बिलकुल सही लगी क्योंकि मेरे विचारों से मेल खाती हैं, सुन्दर रचना के लिए आभार.

    :-अरविन्द जांगिड

    ReplyDelete
  3. ये सर की करें चिंता या कार की करें |
    या बीहड़ों में बैठे सरदार की करें |
    झंझट ये हैं विधायक ,मजबूरियां भी हैं ,
    चिन्ता करें तुम्हारी या घर-बार की करें

    वो मारा पापड़ वाले को।

    ReplyDelete
  4. 5.5/10

    आपकी क्षणिकाओं में बहुत धार है
    आपको पढना सुखद है.

    ReplyDelete
  5. hihihi....bohot khoob, acchi utaari hai sabki....accha laga aapko padhna

    ReplyDelete
  6. वाह “झंझट“ साहब वाह
    तीनो तुरूप के इक्के है
    बेहतरीन व्यंग

    ReplyDelete
  7. ... bahut khoob ... behatreen !!!

    ReplyDelete
  8. Aapki vyang rachnaayen sarthak aur prasansniye hain. Bahut hi dhardaar likhte hain aap. iske liye apko bdhaai.

    ReplyDelete
  9. बहुत खूब, तीखा व्यंग्य हे आपकी इन छोटी रचनाओं में...बधाई।

    ReplyDelete
  10. ये सर की करें चिंता या कार की करें |
    या बीहड़ों में बैठे सरदार की करें |
    झंझट ये हैं विधायक ,मजबूरियां भी हैं ,
    चिन्ता करें तुम्हारी या घर-बार की करें |
    xxxxxxxxxxxxxx
    बहुत बढ़िया ...शुभकामनायें
    मेरे ब्लॉग पर आने के लिए शुक्रिया

    ReplyDelete
  11. झंझटिया की कविताई
    हमें भी भाई....
    बधाई हो झंझट भाई...!

    ReplyDelete
  12. Kya baat.. behad sahi aur sateek vyangya :)

    ReplyDelete
  13. पहली बार आया हूँ आपके ब्लॉग पर और मस्त हास्य रस ले कर ज रहा हूँ ... बहुत खूब ..

    ReplyDelete
  14. सटीक अवलोकन

    ReplyDelete